close

  • Faithful to my Homeland, the Republic of Poland

     

  • वर्तमान समाचार

  • 11 May 2018

    पोलैंड का ध्वज दिवस 2 मई को मनाया जाता है। इस दिन, पोलैंड के नागरिक लाल और सफेद राष्ट्रीय रंगों के लंबे इतिहास पर गौर करते हैं और गर्व से अपने घरों के बाहर झंडे प्रदर्शित करते हैं।

    पोलिश राष्ट्रीय रंग हेराल्डिक मूल की दुनिया के कुछ में से एक हैं। वे पोलैंड साम्राज्य के राज्य चिह्न और लिथुआनिया के ग्रैंड डची के राज्य चिह्न के रंगों से निकलते हैं। पोलिश ध्वज में, सफेद , ईगल के सफेद रंग का प्रतीक है, जो पोलैंड  के राज्य चिह्न पर अंकित है, और साथ ही  प्रतीक है पुर्सुअर के सफेद का - जहाँ एक योद्धा घुड़सवारी करता हुआ दिखाया गया है, जो लिथुआनिया राज्य चिह्न पर अंकित है। दोनों प्रभार एक लाल ढाल पर अंकित हैं। ध्वज का ऊपरी हिस्सा सफेद रखा जाता है और निचला हिस्सा लाल होता है क्योंकि पोलिश हेराल्ड्री में, आवेश के रंगों को आधार के रंगों पर प्राथमिकता दी जाती है।

    3 मई 1792 को देश के संविधान पर हस्ताक्षर करने की पहली सालगिरह पर लाल और सफेद रंगों को पहली बार राष्ट्रीय रंग के रूप में पहचाना गया था। उन्हें नवंबर विद्रोह के दौरान 1831 में पोलैंड साम्राज्य के सेजम द्वारा पोलिश राज्य के रंगों के रूप में आधिकारिक तौर पर अपनाया गया था। पोलैंड की आजादी के बाद, 1 अगस्त 1919 को विधानसभा द्वारा पोलिश ध्वज की उपस्थिति की पुष्टि की गई थी।

    पोलिश ध्वज दिवस आधिकारिक तौर पर 2004 से मनाया जा रहा है। इस दिन, लाल और सफेद राष्ट्रीय रंगों की याद दिलाने के लिए कई देशभक्ति अभियान आयोजित किए जाते हैं। हाल के वर्षों में, राष्ट्रीय ब्रौच19 वीं शताब्दी में विद्रोहियों द्वारा पहना गया एक सफेद और लाल रोसेट (एक चक्राकार आभूषण ) को फिर से सम्मान दिया जा रहा है। आजकल पोलैंड के नागरिक राष्ट्रीय कार्यक्रमों के दौरान इस ब्रौच को अपने कपड़ो में लगाते हैं |

    Print Print Share: